बीएसपी प्रबंधन के गुंडई से जूझ रहा भिलाई, पंडित को पीटा.. महिलाओं के साथ बदसलूकी का विडियो वायरल, जानिए क्या है मामला?

भिलाई, तोपचंद। भिलाई स्टील प्लांट के बारे में तो आप लोगों ने बहुत सुना होगा मगर बीएसपी प्रबंधन का एक और चेहरा भी है, जो शायद आपने पहले कभी नहीं देखा होगा। भिलाई की जनता इससे खूब वाकिफ है. दरअसल बीएसपी प्रबंधन और उसके अधिकारी शहर के कई इलाकों में खुलेआम दादागिरी करते हैं. जी हां आपने ठीक सुना सीएसआर तो अपनी जगह है मगर दादागिरी इनकी अलग ही चलती है. ये कोई पहली बार नहीं है जब जनता से बत्तमीजी और फिर माफ़ी मांगने का

शहर के लोगों का आरोप है कि भिलाई में बीएसपी प्रबंधन और उनके अधिकारियों की खुलेआम दादागिरी और गुंडागर्दी चल रही है, पहले बीएसपी के अधिकारी सिर्फ गरीब लोगों के घर खाली करवाते थे. लोगों की दुकानें तोड़ देते थे. लेकिन अब बीएसपी के अधिकारी मंदिरों को भी नहीं छोड़ रहे हैं. सिर्फ यही नहीं पंडितों और महिलाओं के साथ मारपीट और हाथापाई में उतरा है.

क्या हुआ था मंदिर प्रांगण में ?

सबसे पहले आपको बता दें कि मामला भिलाई के सेक्टर 9 हॉस्पिटल स्थित हनुमान मंदिर प्रांगण का है यहां पर पिछले 50 सालों से हर साल भव्य भंडारे का आयोजन किया जाता है जिसमें लाखों श्रद्धालु पहुंचते हैं लंबे समय से मंदिर में आने वाले लोग प्रांगण के पास डोम शेड बनाने की मांग कर रहे थे। जिसके बाद विधायक निधि से सहायता मिलने पर यहां पर टेंपरेरी डोमिसाइल्ड बनाने का काम शुरू किया गया इसके साथ ही मंदिर से जुड़े लोगों का यह मानना है की गर्मी के मौसम में आने वाले श्रद्धालुओं को बड़ी राहत मिलेगी। पर उन्हें क्या पता था इस काम में भी बीएसपी प्रबंधन और उसके अधिकारी रोड़ा बनेंगे।

VIRAL VIDEO :

अधिकारियों पर लगे गंभीर आरोप !

हमने वहां मौजूद कमल रणधीवे से बात की तो उन्होंने बताया कि डोम शेड बनाया जा रहा था पूरी तरीके से टेंपरेरी था प्रबंधन अगर चाहती या प्रबंधन तत्काल प्रभाव से किसी तरीके का काम शुरू कर रही होती तो उसे वहां से हटा लिया जाता जिस पर किसी को आपत्ति नहीं थी मगर अचानक कल बड़ी संख्या में बीएसपी के अधिकारी वहां पहुंचे और बदतमीजी करने लगे जिसके बाद वहां मौजूद पंडित और श्रद्धालुओं ने उनसे बात करने की कोशिश की मगर वह किसी एक की भी नहीं सुन रहे थे उसके बाद उन्होंने धक्का-मुक्की शुरू कर दी और पंडितों को महिलाओं को गाली देने लगे। इस सब के बीच बीएसपी के एक अधिकारी केके यादव का नाम सामने आया है जिन पर लोग आरोप लगा रहे हैं जिन्होंने महिलाओं से बदसलूकी की।

मंदिर प्रांगण में मौजूद लोगों का यह कहना है कि अगर बीएसपी को सबस्टेशन बनाना है तो जब काम शुरू होगा उस वक़्त यहां से डोम शेड हटा लिया जाएगा, मगर लंबे समय तक जब यहां पर डोम शेड नहीं था तब बीएसपी को सबस्टेशन की याद नहीं आई। लोगों का साफ कहना है कि बीएसपी के अधिकारी जानबूझकर इस तरह की की बदमाशी कर रहे हैं.

पहले भी तोड़ चुके है मंदिर

बीएसपी प्रबंधन पर इस तरह के आरोप पहली बार नहीं लग रहे है. इससे पहले भी वे सेक्टर 8 स्थित मंदिर को जबरदस्ती तोड़ चुके हैं. जबकि वहां के वार्ड वासियों ने उस मंदिर को बनाया था। वहां वार्ड के नागरिक रोज सुबह शाम पूजा करने जाते थे. लेकिन लोगों की धार्मिक भावनाओं की भी कदर नहीं की और बीएसपी प्रबंधन ने जेसीबी से मंदिर को तोड़ दिया था। जिससे पूरे क्षेत्र के नागरिकों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा था और लोगों में आक्रोश फैल गया था। बाद में बीएसपी प्रबंधन ने अपनी गलती मानी और सार्वजनिक रूप से माफी मांगी थी

Contact

Snehil Saraf
Head Editor
Topchand.com
Contact : +91 9301236424
Email: topchandnews@gmail.com

ADVT

Press ESC to close

Swine Flu in CG : भिलाई में स्वाईन फ्लू से दो मरीजों की मौत, जानें क्या है लक्षण September 29 Daily Horoscope : जाने क्या कहते है आपके सितारे ? क्या आप भी नहाते वक्त करते हैं ये गलतियां? तो हो जाएं सावधान Disha Patani ने सेक्सी साड़ी पहन हॉटनेस से सोशल मीडिया को बनाया अपन दीवाना Bajaj Pulsar N150 Launch: 45-50 kmpl के माइलेज, जानें कीमत और फीचर