सीएम भूपेश की सचिव सौम्या चौरासिया और मुख्यसचिव आर.पी मंडल की वायरल फ़ोटो का सच

तोपचंद फ़र्ज़ी पकड़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सचिव सौम्या चौरासिया और मुख्य सचिव आर.पी. मंडल की फ़ोटो इस फ़ेसबुक में चर्चा का विषय बना हुआ है। चर्चा इस बात की है कि प्रदेश के मुख्य सचिव आर.पी मंडल छाता लिए सीएम सचिव सौम्या चौरासिया को कवर करते बताए जा रहे हैं। इस फ़ोटो को लेकर फ़ेसबुक में तरह-तरह की बात की जा रही है।

इस तस्वीर की जब तोपचंद डॉट कॉम ने पड़ताल की तो मालूम हुआ कि यह वायरल तस्वीर में दिखाई दे रहे महिला अधिकारी और पुरुष अधिकारी बलौदाबाज़ार ज़िला की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल और जिले में पदस्थ डीएसपी संजीव तिवारी है। इसका प्रमाण वरिष्ठ पत्रकार ज़ुल्फ़िकार अली ने पेश किया है, जो वायरल तस्वीर में स्वयं मौजूद है।

देखें असली तस्वीर

ज़ुल्फ़िकार अली बताते है कि यह फ़ोटो संसदीय सचिव चंद्रदेव राय के पिता के निधन के बाद चौथे दिन आयोजित हुए शोक कार्यक्रम की तस्वीर है, जहां अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल और संजीव तिवारी भी शामिल हुए थे, इस दौरान बारिश होने के दौरान संजीव तिवारी निवेदिता पाल को छाते से कवर कर रहे थे।

एक नजर में देखने में तो अचानक कोई भी इन्हें सौम्या चौरासिया और आरपी मंडल ही समझ ले, लेकिन यह तस्वीर खासकर भाजपाइयों को रास नहीं आ रही और तमाम तरह के हवे में बाण छोड़ते हुए यह तस्वीर कल देर रात से ही सोशल मीडिया में छाई हुई है।

अब आप ही सोचिए यदि ये सौम्य चौरासिया-आरपी मंडल हों या निवेदिता पाल-संजीव तिवारी हों, क्या यह तस्वीर कहीं से आलोचना के लायक है? इस तस्वीर में एक महिला है जिसे बारिश से बचाने एक पुरुष उसे छाते से कवर किये हुए है और यह महिला का सम्मान है जो किसी भी पद प्रोटोकॉल से ऊपर है। फेसबुकिया पंडितों को इन मामलों में ज्ञान देने के बजाय महिला विरोधी ज्ञान देने से बचने की आवश्यकता है।

Header Ad