डू यू नो छ्त्तीसगढ़ की नीता लोधी, जिनके नाम हैं कई रिकॉर्ड

दुर्ग | भिलाई जब साडा से नगर निगम बना था, तब शहर को पहली महापौर मिली थी, जिनका नाम है नीता लोधी। जोकि पहली निर्वाचित मेयर बनी और उस वक्त उनकी उम्र थी 25 साल 9 महीने और 21 दिन तब भिलाई की इस युवती ने इतिहास रचा और एशिया की सबसे कम उम्र की निर्वाचित महिला महापौर बनी। आज भी यह गौरव उनके नाम पर बना हुआ है, इस रिकॉर्ड को लेकर लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी उन्हें जगह मिली।


यही नहीं नीता लोधी अपने कार्यकाल सन 2000 से 2005 के बीच में अपने कार्यशैली का भी लोहा मनवाया आज भी भिलाई की महिलाओं के बीच उनकी लोकप्रियता बरकरार है। क्योंकि यह वो दौर था, जब नीता लोधी के जरिये छत्तीसगढ़ी महिलाओं ने भी ऊर्जा का संचार हुआ था। अपने मीठी बोली और मिलनसार अंदाज के लिए जानी जाने वाली नीता को भूपेश सरकार ने भी पुनः जगह दी और प्रदेश में सरकार आने के बाद हाल ही में उन्हें अंत्यावसायी, सहकारी और वित्त विकास निगम छ्त्तीसगढ़ शासन का उपाध्यक्ष बनाया गया है।


प्रदेश कांग्रेस की महिला विंग में शीर्ष चेहरों में आने वाली नीता लोधी के नाम एक और रिकॉर्ड है, राजनीति में रहते हुए अच्छी जनसेवा और ईमानदारी के काम करने वाले भारत के दस अद्वितीय युवाओं में भी उनका नाम शामिल है जोकि छ्त्तीसगढ़ से एक मात्र है। यही कारण है की लोधी समाज भी अपनी इस बेटी को अपना गौरव मानता है।
आज नीता लोधी का जन्मदिन है।

Header Ad