रायपुर, तोपचंद : भारतीय कुश्ती पहलवान इन दिनों सुर्खियों में बने हुए हैं. विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक समेत करीब 30 पहलवानों का भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brij Bhushan Sharan Singh) के खिलाफ हल्लाबोल जारी है. पहलवानों ने संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और कई कोचों के खिलाफ यौन शोषण के आरोप लगाए हैं. विवाद बढ़ता देख खेल मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) इस मामले को लेकर पहलवानों से मिले. इस बैठक पर पूरे देश की नजरें थी लेकिन ये मुलाकात बेनतीजा रही.

गुरुवार की रात विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, अंशु मलिक, रवि दहिया, सरिता मोर समेत प्रदर्शनकारी पहलवानों ने ठाकुर से उनके आवास पर मुलाकात की और त्वरित कार्रवाई की मांग की. दोनों पक्षों के बीच बैठक देर रात तक जारी रही जिसमें दोनों पक्ष अब तक कोई ठोस समाधान निकालने में विफल रहे हैं.

खबरों के मुताबिक पहलवान शुक्रवार को फिर से खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से मिलेंगे. इससे पहले गुरुवार को केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने पहलवानों के साथ करीब 4 घंटे तक बातचीत की. देर रात खेल मंत्री के घर से निकलने के बाद किसी पहलवान ने मीडिया से बात नहीं की. आज दोबारा फिर बैठक होगी.

WFI को भंग करना चाहते हैं पहलवान

सूत्रों के मुताबिक, सरकार चाहती है कि पहलवान अपना विरोध खत्म करें लेकिन खिलाड़ी इस बात पर अड़े हैं कि पहले डब्ल्यूएफआई को भंग किया जाए. पहलवानों के एक करीबी सूत्र ने ‘पीटीआई-’ से कहा, ‘‘सरकार अन्य मुद्दों को बाद में सुलझा सकती है, लेकिन उसे पहले डब्ल्यूएफआई को भंग करना चाहिए.’’

बृजभूषण शरण सिंह करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

आरोपों के बीच कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने शुक्रवार (20 जनवरी) को दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है. बृजभूषण शरण सिंह इस बैठक में खुद पर लगे आरोपों पर बात करेंगे. इसके बारे में उनके कार्यालय से बताया गया है कि ‘कुश्ती और कुश्ती के खिलाफ साजिश करने और महिला पहलवानो की इज्जत के साथ खिलवाड़ करने की राजनैतिक साजिश का पर्दाफाश’ में मीडिया के सभी साथी आमंत्रित हैं.

बृजभूषण शरण सिंह पर गंभीर आरोप

भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ पहलवानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष पर खिलाड़ियों के यौन उत्पीड़न और परेशान करने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं. बृजभूषण शरण सिंह ने आरोपों से इनकार किया है. उन्होंने कहा यौन शोषण का आरोप बहुत बड़ा आरोप है. अगर ये सच साबित होता है तो वे फांसी पर लटकने को तैयार हैं. बृजभूषण शरण ने यह भी कहा कि जो भी खिलाड़ी विरोध कर रहे हैं, इनमें से कोई भी ओलंपिक नहीं जीत सकता, इसीलिए ये गुस्से में हैं.