Topchandराज्यरायपुर

क्या हो सकता है सिंगल यूज प्लास्टिक के विकल्प? दूसरी बैठक सम्पन्न, मुख्य सचिव ने अधिकारियों को दिए यह निर्देश…

रायपुर, तोपचंद : Single Use Plastic Ban: देशभर में 1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध का असर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में दिखने लगा है. सब्जी बाजार में प्लास्टिक की जांच की जा रही है और पकड़े जाने पर जुर्माना लगाया जा रहा है. अब ऐसे में सरकार के सामने यह सवाल खड़ा हुआ है की क्या इसका कोई विकल्प होगा ? क्या फिर से शहर में दोना -पत्तल दौर वापस आएगा ? इस बीच प्रदेश में सिंगल यूज प्लास्टिक के विलोपन के लिए गठित टास्क फोर्स की दूसरी बैठक आज यहां मंत्रालय महानदी भवन में सम्पन्न हुई। बैठक में केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के दिशा निर्देशों के तहत एकल उपयोग प्लास्टिक के विलोपन की कार्ययोजना पर व्यापक चर्चा हुई।

दोना-पत्तल के उपयोग को बढ़वा ?

सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग करते पाये जाने पर कार्यवाही करने तथा विकल्प के रूप में कागज के बैग प्लेट, दोना-पत्तल का उपयोग करने के लिए जन सामान्य को प्रेरित करने पर चर्चा हुई। बैठक में राज्य के औद्योगिक संस्थानों एवं विभागों को सिंगल यूज प्लास्टिक के विकल्प तलाशने देश के अन्य राज्यों में लागू सर्वोत्तम व्यवहारिक तरीकों को छत्तीसगढ़ में लागू करने पर विशेष बल दिया गया।

क्या कहा मुख्य सचिव ने ?

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि विभिन्न वैवाहिक आयोजन स्थलों में सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नही करने एवं इसके विकल्प के रूप में नगरीय क्षेत्रों में स्थापित बर्तन बैंक से जरूरी सामान बर्तन लेने की समझाईस दी जाए। दोना-पत्तल के उपयोग को बढ़ावा दिया जाए। मुख्य सचिव ने आगामी दिनों में आयोजित होने वाले विभिन्न सार्वजनिक उत्सवों में सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नही करने के लिए आयोजन समितियों को समझाईस दिए जाने की बात कही है।

Related Articles