Top न्यूज़ ब्रीफTopchandदेश-विदेश

Gyanvapi Masjid Verdict: मुस्लिम पक्ष की याचिका खारिज, हिन्दुओं के पक्ष में फैसला, अगली सुनवाई इस तारीख को होगी…

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी मस्जिद मामले में हिंदू पक्ष का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन कहा कि अदालत ने मुस्लिम पक्ष की याचिका को खारिज कर दिया और कहा कि मुकदमा विचारणीय है. केस में अगली सुनवाई 22 सितंबर को होगी.

नेशनल डेस्क, तोपचंद : Gyanvapi Masjid Verdict: वाराणसी की जिला अदालत ने हिन्दुओं के पक्ष में फैसला (verdict in favor of hindus) दिया है.ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी पोषणीयता मामले में फैसला सुनाते हुए अदालत ने कहा – “इस मुकदमे की सुनवाई होगी.” कोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद में श्रृंगार गौरी मंदिर(Shringar Gauri Temple in Gyanvapi Mosque) में हर रोज पूजा करने की याचिका को जायज ठहराया है. कोर्ट ने फैसला सुनाया है कि याचिका सुनने योग्य है. मस्जिद पक्ष की तरफ से दायर याचिका में मेरिट नहीं. बता दें की हिंदू पक्ष की ओर से ज्ञानवापी परिसर में स्थित श्रृंगार गौरी समेत अन्य धार्मिक स्थलों पर नियमित पूजा अर्चना करने की अनुमति दिए जाने की मांग की गई थी.

ज्ञानवापी मस्जिद मामले में क्या कहा कोर्ट ने? (What did the Court say in the Gyanvapi Masjid case?)

कोर्ट ने कहा- “वाराणसी-ज्ञानवापी परिसर को लेकर दायर मुकदमा नंबर 693/2021 (18/2022) राखी सिंह बनाम उत्तर प्रदेश राज्य , उपरोक्त मुकदमा न्यायालय में चलने योग्य है. यह निर्धारित करते हुए, प्रतिवादी संख्या. 4 अंजुमन इंतजामिया मस्जिद कमिटी के द्वारा दिऐ गऐ 7/11 के प्रार्थना पत्र को खारिज कर दिया.”

कब होगी ज्ञानवापी मस्जिद मामले की अगली सुनवाई? (When will the Gyanvapi Masjid case be heard next?)

आपको बता दें की अब तक मिली जानकारी के अनुसार कोर्ट ने कहा कि अब इस मामले पर अगली सुनवाई 22 सितंबर 2022 को होगी. फैसले में अदालत ने मुस्लिम पक्ष की याचिका खारिज कर दी. मिली जानकारी के बाद मुस्लिम पक्ष अब हाईकोर्ट जाएगा.

मुस्लिम पक्ष कोर्ट ने क्या कहा?

कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की दलील को खारिज करते हुए अपने फैसले में कहा है कि सिविल प्रक्रिया संहिता के आदेश 07 नियम 11 के तहत इस मामले में सुनवाई हो सकती है. ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर वाराणसी और लखनऊ में अलर्ट जारी किया गया है. लखनऊ चौक चौराहे से लेकर नखास तक पुलिस कमिश्नर ने पैदल मार्च किया. सुरक्षा को देखते हुए कमिश्नर ने पैदल मार्च किया है. ड्रोन से पूरे इलाके पर नजर रखी जा रही है.

Related Articles