रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी में कोरोना संक्रमण का मामले सामने आने के बाद नगरीय प्रशासन मंत्री ने अपने सामाजिक कर्तवों का पालन करते हुए हुए ख़ुद को आइसोलेट कर लिया है। साथ ही उनकी बेटी ने भी अपने आप को आइसोलेट किया है।

डहरिया की बेटी विदेश यात्रा पर थी, इसके बाद भारत अपने गृह राज्य में लौटते ही एतिहातन अपने कोरोना होने की शंका को दूर करने अपना सैंपल दिया और ख़ुद को आइसोलेट किया।

इस तरह सभी विदेश से लौटने वाले भारतीय अगर अपने आप को आइसोलेट करें और इस प्रकिया में शामिल होकर सरकार का साथ दें तो इस बीमारी से लड़ने में काफ़ी ज़्यादा आसानी होगी।

बत दें कि डॉ. डहरिया राज्यसभा सांसद के.टी.एस. तुलसी का सर्टिफिकेट छोड़ने दिल्ली गए थे। वही दिल्ली में उनकी पुत्री के विदेश से लौटने के बाद वे उसके साथ में रायपुर लौटे हैं। उनकी पुत्री का दिल्ली /रायपुर में थर्मल स्क्रिनिंग की गई है, जिसमें किसी भी प्रकार के लक्षण परिलक्षित नहीं हुए है फिर भी सावधानी रखते हुए मंत्री डॉ. डहरिया अपनी पुत्री के साथ सेल्फ क्वेरेंटाईन पर चले गए हैं।

डहरिया ने बिंदुओ में दी जानकारी

1.लंदन Aiport मे सम्पूर्ण जाँच के बाद हवाई यात्रा का permission दिया गया था
2.दिल्ली airport मे उतरने के बाद सम्पूर्ण जाँच की गयी जिसमें सभी रिपोर्ट नेगेटिव आइ
3.चिकित्सकों/विशेषज्ञों की सलाह होम आइसोलेशन की दी गयी है
4.होम आइसोलेशन के लिए मेरे निवास के पृथक फ़लोर मे पृथक कमरे का इंतज़ाम किया गया है
5.होम आइसोलेशन कक्ष का निरीक्षण योग्य चिकित्सक के द्वारा करवाया गया है तथा उनसे OK मिलने के पश्चात ही बिटिया को वहाँ शिफ़्ट किया जा रहा है
6.होम आइसोलेशेन के दौरान योग्य चिकित्सक उपलब्ध रहेंगे
7.हमने किसी भी प्रकार की कोई जानकारी स्वास्थ्य विभाग से नही छिपायी है सम्पूर्ण जानकारी देते हुए योग्य स्वास्थ्य अधिकारियों के निर्देशन मे कार्य किया जा रहा है….

8. समय समय पर सभी जानकारी कलेक्टर रायपुर व स्वास्थ्य अधिकारी को दी जा रही है तथा डीन एम्स पल्मोनरी विभाग से भी चर्चा कर निर्देश लिया गया है।
9 .मैंने भी सुरक्षा को ध्यान रखते हुए परिवार के सांथ सेल्फ क्वारंटाइन समय (14 दिन) आइसोलेशन में रहने का निर्णय लिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *