सूरजपुर छत्तीसगढ़ के सूरजपुर  में एक बालिका की गुमशदगी पर टीआई, एसआई और मुंशी गंभीर नहीं हुए तो आईजी ने तत्काल प्रभाव से कार्यवाही करते हुए थाना प्रभारी को लाइन अटैच किया है, जबकि  उप सहायक निरीक्षक और मुंशी सस्पेंड कर दिए गए हैं।

दरअसल, शनिवार रात से एक 13 वर्षीय नाबालिग लड़की अपने घर से लापता है, उसके परिजन रात में ही इसकी शिकायत लेकर भटगाँव थाना पहुंचे थे। लेकिन थाना स्टाफ ने उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी और सुबह आने को कह दिया।

इसके बाद परिजन सुबह थाना पहुंचे, एन वक़्त पर आईजी रत्नलाल डांगी भी पहुंचे। चेहरे से परेशान परिजनों को देख उनसे पूछा कि थाने में क्यों आए हो, क्या शिकायत है !

तब परिजनों ने छत्तीसगढ़ी में कहा “तेरह साल के नोनी ( लड़की ) हवे साहब.. रात ले कहाँ चल गईस.. राति के आए रहेंव हमन.. तो साहब मन बोलिन सुबह आबे.. तो रिपोर्ट लिखाही”

इतने सुनते ही आईजी रत्नलाल बिगड़ पड़े और कहा “यह रिपोर्ट रात में क्यों नहीं लिखी गई जबकि सूचना आ गई थी”

आईजी ने स्टाफ से ड्यूटी रजिस्टर मांगा ही इसके बाद कहा “बेहद संवेदनशील मामला और उसमें ऐसी लापरवाही अक्षम्य है.. जबकि स्पष्ट निर्देश हैं कि रिपोर्ट तत्काल लिखी जाए.. बावजूद FIR दर्ज ना किया जाना सेवा में लापरवाही और वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश की अवहेलना है..तत्कालीन ड्यूटी मुंशी अनिल कुमार और ड्यूटी प्रभारी ASI कृष्ण कुमार को निलंबित किया जाता है.. साथ ही TI को लाईन अटैच किया जाता है”

डांगी ने एसपी सूरजपुर राजेश कुकरेजा को मामले की जाँच कराकर एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया हैं।

यह भी देखें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *