बीजापुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने अपने साथी नक्सली उस वक़्त पिटाई कर दी जब उन्हें इस बात का पता चला कि उनका एक साथ आत्मसमर्पण की तैयारी में है। नक्सली अपने साथी के लिए जनअदालत लगाने वाले थे, लेकिन एन वक्त पर वह उनके चुंगल से भाग निकला।

जिले के पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने बताया कि सन्नू मंडावी अपने साथी नक्सलियों की मारपीट के बाद जान बचाकर पुलिस के पास आया। सन्नू जिस वक़्त पुलिस के पास पहुंचा वह घायल अवस्था में था, उसे जिला अस्पताल ले जाकर उसका इलाज कराया गया। वह आत्मसमर्पण करना चाहता था, पर इसकी भनक उनके साथियों को लग गई तब उसके साथियों ने उसकी खूब पिटाई की।

पुलिस को सन्नू ने बताया कि वह माओवादियों के कंपनी में नवंबर 2007 से सक्रीय सदस्य था और वह इंसास रायफल का इस्तेमाल करता था।

यह भी देखें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *