पढ़ने लायक

सहा जनसम्पर्क अधिकारी ने व्हाटसअप ग्रुप में डाला सूसाइड नोट, मची हड़कंप

रायगढ़। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में जनसंपर्क  विभाग में कार्यरत महिला सहायक जनसंपर्क अधिकारी नूतन सिदार  ने विभाग के डिप्टी डायरेक्टर ऊषा किरण के खिलाफ प्रताड़ना करने का गंभीर आरोप लगाया है। वहीं व्हाट्सएप ग्रुप में एक सुसाइडल नोट के जरिये इसका खुलासा किया, जिससे जिला कार्यालय में हड़कंप मच गया। जिस व्हाट्सएप ग्रुप में यह मैसेज भेजा गया वह जिले का पीआरओ ग्रुप है जिसमें जिलेभर के पत्रकार और अधिकारी जुड़े हुवे हैं। हालाकि अभी नूतन सकुशल है।

नूतन सिदार ने पीआरओ रायगढ़ नाम के इस व्हाट्सएप्प में लिखा है कि “मैं नूतन सिदार सहायक जनसंपर्क अधिकारी जिला जनसंपर्क कार्यलय रायगढ़ पूरे होश हवास में बताना चाहती हूँ। मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। उच्च अधिकारी डिप्टी डायरेक्टर ऊषा किरण बडाईक द्वारा। मैं मानसिक रूप से परेशान होकर आत्मा हत्या कर रही हूँ।

इस मेसेज के शेयर करने के बाद पुलिस नूतन सिदार की तलाश में जुट गई थी और नूतन के लोकेशन का पता कर रही थी। इधर, पुलिस की खोज बीन के बाद नूतन को रायगढ़ के स्टेशन से पुलिस ने बरामद किया है। इस मामले में तोपचंद डॉट कॉम ने जब नूतन सिदार से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने नाम सुनकर फोन काट दिया और दोबारा प्रयास करने पर फोन का जवाब नहीं दिया है।  एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा से जब तोपचंद डॉट कॉम ने बात की तो उन्होंने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि काफी खोजने के बाद पुलिस को नूतन सिदार स्टेशन में मिली और अभी पुलिस कोतवाली में उनकी काउंसलिंग कर रही है।

यह भी पढ़ें

https://topchand.com/good-signs-from-san-francisco/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.