आरंग। चुनाव जीतने के लिए पैसे और सामान बंटाना तो आम बात है। लेकिन, बांटें हुए सामान को वापिस मांग लेना ये का अनोखा मामला आरंग से आया है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के चुनावी परिणाम आने के बाद एक प्रत्याशी ने अपना दिया हुआ सामान वापस मांग लिया। यह सामान उसने चुनाव में वोटरों को प्रभावित करने के लिए गाँव वालों में बांटे थे।

दरअसल, राजनितिक विसंगतियों को आईना दिखाती यह खबर रायपुर से महज 25 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत भानसोज की है। यहां वार्ड आरंग विकासखण्ड क्षेत्र के भांनसोज गांव में पंच प्रत्याशी मनोहर देवांगन अपने वार्ड के मतदाताओं को प्रलोभन देने कई प्रकार के घरेलू सामान बांटे थे । जब वह इस चुनाव मे हार गये , तो अब वे उन सभी लोगों से अपना दिया हुआ सामान वापिस मांगने लगे , जिसके बाद सभी वार्डवासी एकत्रित हुए और बाजार में एक जगह ले जाकर उसका सामान फेंक दिया है । जब पुलिस को इस बात की जानकारी प्राप्त हुई तो विवेचना के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है ।

प्रदेश भर के 57 विकासखंडों में मंगलवार को मतदान हुआ है. जिसमें से आरंग का भानसोज गांव भी शामिल है ।यहां पंच पद के लिए एक ही परिवार से दो भाई खड़े हुए थे । दोनों की आपस में बनती नहीं थी । यही वजह है कि दूसरा भाई मनोहर देवांगन चुनाव जीतने के लिए मतदाताओं को सामान वितरण किया था. जिसमें भारी मात्रा में साड़ी, मिक्सर ग्राइंडर, कुकर, कपड़े, फल समेत कई सामान थे। लेकिन जब चुनाव के नतीजे सामने आए, तो उसे 114 वोट में से कुल 8 वोट मिले, यानी घर के भी वोट नहीं मिले, इस तरह उसकी बुरी हार हुई।

यह भी पढ़िए

https://topchand.com/the-pain-department-did-not-understand-at-least-you-understand/

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *