बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में 28 जिले के रूप में गौरेला- पेंड्रा-मरवाही जल्द अस्तित्व में आने वाला है, उम्मीद है कि 10 फ़रवरी तक सरकारी काम-काज शुरू हो जाएगा। इसके लिए सरकार ने यहां काम करने के इच्छुक कर्मचारियों की सूची बना रही है। बिलासपुर के अतिरिक्त कलेक्टर ने बिलासपुर कोटा तखतपुर बिल्हा और मस्तुरी के तहसीलदार को पत्र भेजकर उन अधिकारियों और कर्मचारियों की सूची तीन दिवस में मांगी है, जो कि नवगठित ज़िले में अपनी इच्छा से जाना चाहते हैं।


इस नये जिले में सरकार ने पहले ही प्रशासनिक अधिकारी IAS शिखा राजपूत तिवारी और पुलिस के IPS अधिकारी सूरज सिंह को ओएसडी बनाकर भेजा है। ये दोनों अफसर जिले के कलेक्टर और एसपी बनाये जा सकते हैं। इस नये जिले के अस्तित्व में आने के बाद गौरेला-पेंड्रा-मरवाही को लोगों को सरकारी काम के लिए बिलासपुर जाने से राहत मिलेगी। इसी समस्या को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे नये जिला बनाने की घोषणा की थी। 20 नवंबर को इस घोषणा को राजपत्र में शामिल कर नये जिले का ऐलान कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें

https://topchand.com/someone-else-came-to-pick-up-poor-somani-got-stuck/

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *