पढ़ने लायक

ईचक दाना, बीचक दाना… छत्तीसगढ़ के चावल में प्लास्टिक दाना… देख के खाहु

बलौदाबाजार। राज्य की सार्वजनिक वितरण प्रणाली में मिलने वाला चावल एक बार फिर विवादों में है। इस बार बलौदाबाजार जिले में चावल के साथ प्लास्टिक के दाने मिलने की खबर है ।

जिले के पलारी ब्लॉक के ग्राम बिनोरी में सार्वजानिक वितरण प्रणाली के तहत मिलने वाले चावल में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। बिनोरी निवासी संदीप साहू ने बताया है कि इस माह उसने गाँव की राशन दुकान से 25 तारीख को 35 किलो चावल लिया था। चावल लेने के बाद घर में इसकी सफाई करते वक्त, चावल से लगभग 3 किलो प्लास्टिक के दाने निकले थे।

संदीप के इस आरोप के बाद से गांव में हडकंप मच गई है। गांव के लोग पीडीएस के तहत मिलने वाली चावल को शक की निगाह से देख रहे है। ऐसी स्थिति में वह क्या खाएंगे, इसे लेकर चिंतित है।

इधर, राशन दुकान के संचालक से इसकी शिकायत की गई है। संचालक चंदू वर्मा का कहना है कि गणतंत्र दिवस के मौके पर राशन दुकान बंद थी, जबकि सोमवार को मीटिंग की वजह से राशन दुकान को बंद करना पड़ा। मंगलवार को देखने पर संदीप साहू की शिकायत सही पाई गई है। राशन दुकान के संचालक चंदू के अनुसार यह राशन अब तक कई लोगों को बंट चुका है। इसकी शिकायत खाद्य विभाग को की जा रही है।

यह पहली दफा नहीं है जब पीडीएस के चावल में गड़बड़ी का मामला सामने आया है। योजना के शुरू होने के समय से ही इसका नाम विवाद से जुड़ा है। रमन सरकार के दौरान भी चावल में प्लास्टिक पायी जाने की शिकायत हुई थी। इस बड़ी गड़बड़ी के बाद खाद्य विभाग और मंत्री क्या एक्शन लेते है यह देखने वाली बात होगी।

यह भी पढ़ें

https://topchand.com/jogi-refuses-to-hear-father-son-petition/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.