रायपुर। भ्रष्टाचार और आय से अधिक संपत्ति के मामले फ़रार आबकारी विभाग के पूर्व ओएसड़ी समुद्र सिंह को पकड़ने के लिए ईओडब्लू ने इनाम की घोषणा कर दी है। समुद्र सिंह पर ईओडब्लू ने दस हज़ार का का इनाम रखा है। समुद्र 24 अप्रैल 2019 से फ़रार है।

भूपेश सरकार की जांच के घेरे में आये समुद्र सिंह के 8 ठिकानों पर ईओडब्लू ने छापे मार कार्रवाई की थी। इस छापे में 5 हज़ार करोड़ की हेर-फेर पाई गई थी। समुद्र सिंह रमन सरकार के जाते ही फ़रार बताए जाते है।

नितिन भंसाली की शिकायत पर EOW की टीम ने 26 अप्रैल 2019 की सुबह रायपुर के बोरियाकला में स्थित मकान नंबर 172 में छापेमारी की थी। मिली जानकारी के अनुसार यह घर नागपुर में पदस्थ विजलेंस अधिकारी का है, जहां आरोपी अक्सर आया-जाया करता था। यहां EOW की टीम ने सभी दस्तावेजों की जांच की थी। तब से EOW को समुन्द्र सिंह की भी तलाश है। समुंद्र सिंह छत्तीसगढ़ में सरकार बदलते ही अपना इस्तीफा देकर कहीं फरार हो गया था।

कांग्रेस नेता नितिन भंसाली अनुसार बीजेपी शासनकाल में संविदा में 9 वर्षो तक आबकारी विभाग में विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी के पद रहते हुए समुन्द्र सिंह ने लिकर पोलिसी, शराब बिक्री, प्रॉफिट मार्जिन, निम्न श्रेणी की शराब को आईएमएल की केटेगरी में रखते हुए शराब ठेकेदारों और निर्माताओं को लाभ पहुंचाने, कर चोरी करने जैसे काम किए है। इसकी शिकायत नितिन भंसाली ने 116 पेजों के दस्तावेजों के साथ EOW और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से की थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *