पढ़ने लायक

पीआरओ कंपनी की लापरवाही से 12 घंटे में 2 की मौत, दर्जन भर से अधिक घायल…पुलिया का मरम्मत कर सामान छोड़ा, अब हो रहा हादसा

कोंडागांव। छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के फरसगांव क्षेत्र में जुगानी पुलिस हादसे का घर बन गया है, क्यों पुल का निर्माण करने वाली पीआरओ कंपनी ने पुलिया बना कर सामान को ऐसे ही छोड़ दिया है। जिसके चलते 12 घंटे के अंदर एक ही जगह पर तीन दुर्घटना में दो व्यक्ति की मौत हो गई और एक दर्जन से ज्यादा यात्री घायल हुए।

घटना थाना क्षेत्र फरसगांव के अंतर्गत जुगानी पुलिया के ऊपर जहां प्रातः लगभग 7:00 बजे बस और ट्रक के आपसी भिड़ंत से दर्जनों यात्री घायल हो गए वहीं बस ड्राइवर का इलाज के दौरान मौत हो गई।

घटना के अनुसार सुबह 7:00 बजे कांकेर रोडवेज के यात्री बस क्र. सीजी 19 एफ 3060 जगदलपुर से रायपुर की ओर जा रहा था इतने में जुगानी पुलिया के ऊपर विपरीत दिशा से आ रहा ट्रक क्रमांक सीजी 17 केआर 9300 से आमने सामने भिड़ंत हो गया जिससे ट्रक ड्राइवर सहित बस के दर्जन से ज्यादा यात्री घायल हो गए। इस मौके पर सबसे पहले लंजोड़ा निवासी दिनेश कुमार ठाकुर घटनास्थल पर पहुंच कर अपने खुद के जेसीबी लेकर राहत कार्य में जुट गए और बस ड्राइवर को गाड़ी से निकालकर सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उक्त दुर्घटना पीआरओ कंपनी द्वारा लापरवाही के चलते जुगानी पुलिया के ऊपर मरम्मत का कार्य कर बचे हुए मरम्मत सामग्री उसी स्थान पर छोड़ा गया था। जिसके चलते बीते रात करीबन 8:00 बजे उस जगह पर लगे स्टॉपर से टकराकर एक बाइक सवार की मृत्यु हो गई साथ ही एक ऑटो भी उसी जगह बीती रात को पलटा जिसमें बैठे यात्री घायल हुए और सुबह बस और ट्रक में भिड़ंत हो गया।

बता दें कि इस क्षेत्र में टोल टैक्स चालू हो गया और नियम के तहत अगर कोई दुर्घटना होता है तो रोड निर्माण कंपनी पीआरओ वालों द्वारा सभी सुविधाएं दी जानी चाहिए, लेकिन इस दुर्घटना में पीआरओ कंपनी कोई सुविधा ने दी और न ही एंबुलेंस आया और यातायात को दुरुस्त करने के लिए गाड़ी को हटाने क्रेन की व्यवस्था भी नहीं की गई। दुर्घटना की सूचना मिलते ही फरसगांव पुलिस एवं यातायात पुलिस कोंडागांव घटनास्थल पर पहुंचकर घायलों को 108 की मदद से जिला अस्पताल भेजा गया और यातायात को दुरुस्त करने में जुट गए।

यह भी पढ़ें

https://topchand.com/ms-told-deepika/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.