रायपुर। इन दिनों छत्तीसगढ़ में थाना प्रभारियों के पीट जाने की घटना आम हो गई है। कभी सियासी गुंडे तो कभी कोई और..जशपुर में थाने के अंदर टीआई की पिटाई के बाद बिलासपर में भी एक टीआई की पिटाई हुई है।

यह पिटाई कार पार्किंग को लेकर हुए विवाद के कारण हुआ है, सरकंडा थाना टीआई जेपी गुप्ता अपनी कार से कांस्टेबल बलबीर सिंह के साथ अपने बच्चे की गाडी में सेल बदलाने के लिये भक्त कवर राम मार्केट वाली लाईन में पहुंचे थे। इस दौरान टीआई जेपी गुप्ता ने अपनी कार श्रेयश गुप्ता के मेडिकल स्टोर्स के पास खड़ी की। तभी श्रेयश गुप्ता मेडिकल शॉप से बाहर आकर गाडी हटाने को कहने लगा और इसी बात को लेकर विवाद हुआ। विवाद बढ़ता देख साथ आये कांस्टेबल ने दुकानदार को समझाया तो भड़कते हुए टीआई की आंखो पर जोरदार मुक्का दे मारा। घटना में टीआई की आंख के उपर गंभीर चोट लगने से खुन निकलने लगा।

इसके विवाद बिलासपुर के कोतवाली थाना पहुंचा। टीआई की शिकायत पर जब मौके पर कोतवाली पेट्रोलिंग आरोपी को पक़ड़ने पहुंची तो आरोपी उनसे भी विवाद करते हुये बदतमीजी की। पुलिस पेट्रोलिंग की टीम ने काफी मशक्कत के बाद आरोपी मेडिकल संचालक श्रेयश गुप्ता को गिरफ्तार कर थाने लेकर आयी। लेकिन जैसी ही ये बात व्यापरियों और कुछ नेताओं को मालूम पड़ी सबके-सब कोतवाली थाना पहुंच आरोपी श्रेयश गुप्ता को छुडाने की मांग करने लगे। लेकिन पुलिस से पंगा लेने के बाद कौन बच सका है, लिहाज़ा श्रेयश पर भी कार्रवाई की जा रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *