अंबिकापुर। छत्तीसगढ़ के प्रतापपुर में एक जंगली हाथी की करंट लगने से मौत हो गई है। घटना के बाद ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग के अधिकारी घटना स्थल पहुंचे हैं और जांच में पता चला है कि खेत की सुरक्षा के लिए लगाये गये करंट युक्त जीआई तार के चपेट में आने से हाथी की मौत हुई है।

इलाके में हाथियों की दहशत है, इस वजह से किसान  अपनी फसल बचाने के लिए जीआई तार में करंट लगा देते हैं। सोमवार की रात प्रतापपुर वन परिक्षेत्र के धरमपुर से लगे गौरा गांव में गन्ना खाने एक हाथी आया था , इस दौरान करंट प्रवाहित जीआई तार के संपर्क में आने से हाथी की मौत हो गई। सुबह ग्रामीणों ने हाथी का शव देखा। सूचना पर वन विभाग का अमला मौके पर पहुंच गया है। प्रारंभिक जांच में घटनास्थल पर जीआई तार मिला है। उसी में करंट प्रवाहित किया गया था। घटनास्थल के नजदीक गन्नो का खेत है। इस क्षेत्र में लंबे समय से हाथियों का विचरण होता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *