बलरामपुर: वन विभाग द्वारा वन मंडल बलरामपुर के अंतर्गत गत दिवस 27 दिसम्बर को बेहरादेव नामक जंगली हाथी के कॉलरिंग और चोट के कारण हुए उसके घाव का सफल उपचार किया गया।

‘ बेहरादेव ‘ की कॉलरिंग और उपचार के लिए बाहर से भी चिकित्सा दल बुलाया गया था। लगभग 15 दिवस पहले जंगली हाथियों के दल में हुए आपसी हमले में बेहरादेव हाथी को कुछ चोटे आयी थी।

 प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) श्री अतुल शुक्ला

बाहर से आए चिकित्सा दल के सदस्यों में तमिलनाडु से डॉ. मनोहरण और भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून से डॉ. लक्ष्मीनारायण, श्री अंकित तथा श्री अंकुश शामिल थे। इसमें वन मंडलाधिकारी बलरामपुर डॉ. प्रणय मिश्रा सहित वन विभाग के स्थानीय अमले का सक्रिय सहयोग रहा। बेहरादेव हाथी का कॉलरिंग और उपचार बलरामपुर वन मंडल के अंतर्गत गोपालपुर सर्किल के राजपुर रेंज में किया गया।

यह भी पता चला की सरगुजा क्षेत्र में विचरण कर रहे एक जंगली हाथी ‘प्यारे’ का रेडियो कालर गिर गया है। वर्त्तमान में पूरे राज्य में 4 जंगली हाथियों को रेडियो कालर लगाया गया है। इनमें से दो सुरगुजा क्षेत्र में हैं, एक रायगढ़ और एक महासमुंद के जंगलों में विचरण कर रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *