पढ़ने लायक

जिस शहर से कभी रमन सिंह भी पार्षद रहे थे, आज उस कवर्धा में भी काँग्रेस ने लहराया परचम

नगरीय निकाय चुनाव के परिणाम सामने आने लगे है। कवर्धा जिला का परिणाम कांग्रेस के पक्ष में रहा है। वहीं जिले में भाजपा का सूपड़ा साफ हो चुका है। 27 वार्ड के नतीजों में 19 वार्ड में कांग्रेस प्रत्याशियों की जीत हुई है, वहीं केवल 6 ही वार्ड में भाजपा ने जीत हासिल की है। बचे 2 वार्डों में निर्दलीय जीत हुई है।

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह का गृहजिला है कवर्धा

कवर्धा जिला पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह का गृहजिला है। परिणाम में यह साफ है, कि सत्ता के जाने के बाद नगरीय निकाय चुनावों के परिणाम ने भी रमन सिंह के नेतृत्व को नकार दिया है। कवर्धा जिले में कभी रमन सिंह स्वयं पार्षद हुआ करते थे लेकिन आज भाजपा की साख वहां डगमगाने की स्थिति में पहुँच चुकी है।

भाजपा की रणनीति रंग नहीं ला पाई
भाजपा की रणनीति नगरीय निकायों में भी असर नहीं कर पाई है। परिणामों में यह देखा जा सकता है कि भाजपा का नगरीय निकायों में कुछ खास रंग नहीं उभर कर आया है। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ साथ भाजपा के दिग्गजों के जिले भी कांग्रेस के रंग में रंगते नजर आ रहे है। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि भाजपा इस हार का ठीकरा किसपर डालती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.