वीडियो

पंचायत चुनाव में नहीं होगा बेलेट पेपर पर प्रत्याशियों का फोटो, नोटा का भी कोई ऑप्शन नहीं

रायपुर। प्रदेश में नगरीय निकाय का चुनाव संपन्न होने से ठीक एक दिन पहले पंचायत चुनवा का बिगुल बज गया है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने सोमवार को इसकी घोषणा करते हुए बताया कि इस बार प्रत्याशियों की मत पत्र में फोटो नहीं होगी। इसके अलावा नोटा का भी कोई ऑप्शन नहीं होगा।

ठाकुर राम सिंह ने बताया कि राज्य में 3 चरणों में मतदान होगा। इसके लिए  30 दिसंबर को अधिसूचना जारी होगी। 6 जनवरी तक नामांकन की प्रक्रिया पुरी कर ली जाएगी, 7 जनवरी को चुनाव कार्य की  समीक्षा होगी और 9 जनवरी को नाम वापसी और प्रतीक चिन्ह का आवंटन होगा। और 9 जनवरी को ही अंतिम सूची का प्रकाशन भी कर दिया जाएगा। इसके बाद वोटिंग  28, 31 जनवरी और 3 फरवरी को होगी। निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि पंचायत चुनाव गैर दलीय आधार पर होगा। पंचायत चुनाव की खास बात यह है कि इस बार अभ्यर्थियों को साक्षर होना जरूरी है।

पंचायत चुनाव के लिए लगभग 6 करोड़ से भी अधिक मतपत्र छापे जाएंगे। छपने वाले मतपत्र का रंग भी अलग-अलग होगा। जिला पंचायत के लिए गुलाबी और  पंचायत में सरपंच के लिए सफेद, इसी तरह पंचायत पंच के लिए पीला और जनपद पंचायत के लिए नीले रंग का मतपत्र जारी किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.