पढ़ने लायक

इश्क के दुश्मनों ने फिर एक बेटी को जिंदा जला दिया..पांच दिन इलाज के बाद मौत

रायपुर। एक लड़की का कसूर बस इतना ही था, एक लड़के से वो प्यार करती थी, शायद जिंदगी भर उसके साथ अपना जीवन बिताना चाहती थी..लेकिन लड़के के घर वालों ने लड़की को मिटटी तेल डाल कर आग लगा दिया.. किसी तरह लड़की को नाजुक स्थिति में अस्पताल पहुंचाया गया..5 दिन इलाज चलने के बाद लड़की की मौत हो गयी

मामला अभनपुर के खोल्हा गांव का है, जहां सरस्वती सोनवानी को अपने ही गांव के लल्लू नाम के लडके से प्रेम था। 18 दिसंबर को सरस्वती लल्लू के घर हमेशा के लिए रहने पहुंची थी। लल्लू  घर पर नहीं था इस दौरान लल्लू के घर वाले और सरस्वती के बीच तनाव हुआ..विवाद की स्थिति इतनी बढ़ गई कि लड़के के माता-पिता और भाभी पर आरोप है कि  उन्होंने मिलकर सरस्वती के उपर मिटटी तेल डाल कर आग के लगा दिया।

इसके बाद सरस्वती को गंभीर अवस्था में रायपुर के डीकेएस अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों ने बताया कि सरस्वती इस घटना में लड़की 85 से 90 प्रतिशत जल चुकी है। पांच दिन अस्पताल में इलाज के चलने के बाद सरस्वती ने दम तोड़ दिया।

लड़की की मौत के बाद लल्लू के माता दुकल्हिन बाई और भाभी नैनी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पिता जलाल की गिरफ़्तारी नहीं हुई है, वो फरार बताये जा रहे है।

अभनपुर थाना के प्रभारी नरेश कुमार ने तोपचंद डॉट कॉम को बताया कि घटना 18 तारीख की है। आरोप है कि प्रेम प्रसंग के चलते लल्लू के माता, पिता और भाभी ने लड़की पर मिटटी तेल डाल कर आग लगा दिया है। इस घटना से लड़की 85 से 90 प्रतिशत जल चुकी थी। इसकी शिकायत 20  तारीख को रात में लड़की के परिजनों की ओर से की गई है। शिकायत को विवेचन में लिया गया था। लड़की का कथन लेना था, पर लड़की की हालत नाजुक बनी हुई थी इस लिए बयान दर्ज नहीं हुआ है। आरोपी नैनी और माता दुकल्हिन बाई को गिरफ्तार कर लिया गया है आगे की कार्रवाई जारी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.