पढ़ने लायक

धान खरीदी का जायजा लेने बस्तर पहुंचे मुख्य सचिव मंडल, फिर हुआ ये

रायपुर। बस्तर में किस तरह से धान खरीदी चल रहा हैं, इसका जायजा लेने मुख्य सचिव आर.पी. मंडल खुद बस्तर पहुंचे। करंजी और छापर भानपुरी स्थित धान खरीदी केंद्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया । इस दौरान करंजी में बारदाने पर स्टम्पिंग (मार्का) ठीक नही होने पर बेहद नाराज हुआ व्यक्त की। मंडल ने अधिकारियों से कहा कि धान खरीदी बारदाने पर स्टेम्पिंग गलत ढंग से हो रहा है। खाद्य और राजस्व विभाग के अधिकारी उपार्जन केंद्रों में जाकर स्टेम्पिंग सही ढंग से कराए। उन्होंने कहा कि उपार्जन केंद्रों में किसानों को किसी भी प्रकार की तकलीफ न हो यह सुनिश्चित किया जाए।

मुख्य सचिव मंडल ने कहा कि धान खरीदी का काम राज्य शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता में है। लगभग 75 दिन तक चलने वाले राज्य सरकार का किसानों के हित में यह महत्वपूर्ण कार्य एक दिसंबर से शुरू हो गया है जो आगामी 15 फरवरी तक चलेगा। खाद्य सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह ने अधिकारियों को अवगत कराया कि उपार्जन केंद्र में किसानों द्वारा रखे गए धान की ढेरी सही हो। गुणवत्तापूर्ण व शासन द्वारा निर्धारित मापदंड के आधार पर ही खरीदी की जाए। प्रति बोरा तौल 40 किलोग्राम हो । उन्होंने स्टैगिंग और ड्रेनेज सिस्टम भी सही ढंग से बनाने के निर्देश दिए

इस दौरान मंडल और कमलप्रीत के साथ राज्य सहकारी विपणन संघ की प्रबंध संचालक शम्मी आबिदी भी थी। सभी ने दोनों खरीदी केंद्रों में धान ख़रीदी की प्रक्रिया का अवलोकन किया और केंद्रों की व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया।

संचालक शम्मी आबिदी ने उपार्जन केन्द्र के लिए बारदाना आबंटन, भंडारण और बारदाने की उपलब्धता के बारे में जानकारी ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.