रायपुर। राज्यसभा ने नागरिकता संशोधन विधेयक को पारित कर दिया है। जिसमें विधेयक के पक्ष में 125 मत पड़े, और विरोध में 105 सदस्यों ने मतदान किया। अब राष्ट्रपति की मुहर के बाद बिल कानून बन कर लागू हो जाएगा।

प्रदेश में नागरिकता लेने के लिए रायपुर जिले से 415 लोगों ने आवेदन दिए है। गृह मंत्रालय के मुताबिक पिछले 10 सालों में पाक से आये 400 सिंधी परिवारों को नागरिकता मिल चुकी है, वहीं 415 लोगो के आवेदन अब भी बाकी है। उन्हें 6 साल की अवधि के बाद नागरिकता मिल जाएगी।

वहीं 1964-70 में रायपुर के माना में बसे बांग्लादेशी शरणार्थियों को नागरिकता मिल चुकी है। जिनकी आबादी अभी 12 हजार है। इसके अलावा कोरबा, पखांजूर,धर्मजयगढ़,अम्बिकापुर में भी लोग नागरिकता पत्र के साथ बसे हुए है।

नागरिकता अधिनियम के अनुसार भारत की नागरिकता जन्म प्रमाण पत्र वंशानुगत क्रमपत्र पंजीकरण से ली जा सकती है।

प्रदेश में इस बिल को लेकर कहीं जश्न तो कहीं विरोध दिखाई दिया है। राजनैतिक दलों में कांग्रेस ने इस विधेयक का विरोध किया है, तो वहीं भाजपा ने इसे लेकर जश्न मनाया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *