रायपुर। नगरीय निकाय चुनावों में अब बस 10 दिनों का समय शेष है। ऐसे में प्रदेश के राजनैतिक दलों ने अपने प्रचार अभियान को तेज कर दिया है।

नामांकन वापसी की प्रक्रिया खत्म होने के बाद प्रत्याशियों की स्थिति स्पष्ट हो चुकी है। नाम वापसी के बाद अब 10 हजार 161 प्रत्याशी निकाय चुनावों के मैदान में है। कांग्रेस, भाजपा, जकांछ, बसपा, आप सभी के उम्मीदवार अपने अपने निकायों में प्रचार करते नजर आ रहे हैं। लेकिन अधिकांश नगरीय निकायों में चुनाव केवल कांग्रेस-भाजपा के बीच ही नजर आ रहा हैं। सत्ता में आने के बाद कांग्रेस के लिए निकाय चुनाव अहम हो जाता है, वही भाजपा के लिए निकाय चुनाव खुद को साबित करने का मौका देता है। जबकि जकाँछ इनमें त्रिकोणीय मुकाबला बनाने की कोशिश में है।

उम्मीदवारों की स्थिति जिलों के हिसाब से देखे तो, रायपुर में 836 उम्मीदवार है। वही दूसरे जिलों में बिलासपुर में 735, मुंगेली में 214, कोरबा में 584, रायगढ़ में 554, सूरजपुर में 253, बलरामपुर में 213, सरगुजा में 214,कोरिया में 445 , जशपुर में 254 , बलौदाबाजार में 584 , गरियाबंद में 242, महासमुंद में 396 , धमतरी में 370, बेमेतरा में 322, दुर्ग में 596, बालोद में 455, राजनांदगांव में 520 , कबीरधाम में 332, कोंडागांव में 164 , बस्तर में 220, नारायणपुर 49, कांकेर में 261, दंतेवाड़ा में 278 , सुकमा में 84, बीजापुर में 50 उम्मीदवार है।

इस तरह 151 निकायों के 2840 वार्डों में 10 हजार 161 प्रत्याशी मैदान में है। वही प्रदेश तीन वार्ड में चुनाव की स्थिति की नहीं बनी, कोरबा के दीपका न.प. कर वार्ड 8 , सरगुजा के लखनपुर के वार्ड 7 और कोंडागांव के वार्ड 7 में प्रत्याशी निर्विरोध ही चुन लिए गए है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *