रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसानो के धान की शत प्रतिशत ख़रीदी सुविधाजनक रूप से सुनिश्चहित करने के लिए लिमिट की व्यवस्था को शिथिल कर दिया है। सभी कलेक्टरों को धान ख़रीदी में व्यवस्थित तरीक़े से अभियान चलाकर छोटे किसानों के धान को पहले खरीदने के निर्देश दिए हैं। अवैध धान और कोंचियों पर होने वाली कार्रवाई जारी रहेगी।

दरअसल छोटे मंझोले किसानों को धान बेचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। जब किसान धान खरीदी केंद्र में धान लेकर पहुंचता था, तो प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान खरीदने की बजाय समीति से उसे एक दिन 7 क्विंटल और बाद में, 8 क्विंटल धान बेचने के लिए कहा जाता था। इससे किसान ​धान बेचने को लेकर परेशान हो रहे थे। किसान को अपना ही धान बार-बार धान खरीदी केंद्र में लाना पड़ता था। 

इस समस्या को लेकर किसानों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात कर समस्याओं के बारे में जानकारी दी थी, इसके बाद मुख्यमंत्री ने धान खरीदी की लिमिट को खत्म करने का फैसला किया है। लिमिट खत्म करने का आशय यह नहीं है, कि किसानों से 15 क्विंटल से ज्यादा धान खरीद लिया जाएगा। किसानों से प्रति ​एकड़ 15 क्विंटल ही धान खरीदा जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *