रायपुर के करीब एक उरला नाम का इंडस्ट्रीयल एरिया है। इस क्षेत्र में कल एक युवक की लाश मिली। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि, ​जो औधें मुंह पड़ी हुई लाश है वह आतंक की है। आतंक मरने वाले युवक रूपेंद्र का प्रचलित नाम है। पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि, मृतक ( रूपेंद्र देवांगन उर्फ आतंक ) और उसका दोस्त दीपक समेत कुछ दोस्त शराब पी रहे थे । इसी रात ​रूपेंद्र दीपक के घर पहुंचा, दीपक घर में नहीं था तो ​उसकी बहन के साथ उसने ज्यादती करने का प्रयास किया। बहन ने जब यह बात अपने भाई दीपक को बताई तो दीपक के सर पर खून सवार हो गया। अगले दिन दीपक और रूपेंद्र दोनों शाम को टकराए तो फिर दोनों के बीच विवाद हुआ। वहां मौजूद दोस्तों ने मामला शांत कराया। दीपक रूपेंद्र को सबक सिखाने के मकसद से बुधवार को घर से निकला और बिरगांव में उसका इंतजार करने लगा। बिरगांव तालाब के पास जैसे ही रूपेंद्र पहुंचा दीपक ने धारदार हथियार से रूपेंद्र पर कई वार किए। और रूपेंद्र की मौत हो गई।
मृतक रूपेंद्र के छेड़छाड़ और दादागिरी से त्रस्त होकर बजरंग नगर बिरगांव के दीपक समेत युवकों ने हत्या करने की बात कबूली है। दीपक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया बाकि, आरोपियों की तालाश जारी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *