रायपुर। अंतागढ़ टेपकांड मामले में मंगलवार को मंतुराम पवार विशेष जांच दल (एसआईटी) को अपना वाइस सैंपल देने गंज थाना पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और अजीत जोगी के ऊपर गंभीर आरोप लगाया है। मंतुराम पवार ने कहा है कि  दोनों ही पूर्व मुख्यमंत्री की भूमिका इस प्रकरण में अहम है इसी लिए वे जांच से दूर भाग रहे हैं।

एसआईटी दफ्तर

मंतुराम पवार ने कहा कि खरीद-फरोख्त की घटना के बाद मैं भाजपा चला गया था। जहाँ मुझे पांच वर्षों तक डरा-धमका कर रखा गया। मैं चाहता हूं कि अंतागढ़ टेप मामले में दूध का दूध पानी का पानी हो..इस लिए मैं कानून का सहयोग कर रहा हूं। और सभी को इसमें सहयोग करना चाहिए।

एसआईटी दफ्तर जाते मंतुराम पवार

मंतुराम ने डॉ. रमन सिंह कहा कि आपके दामाद इसमें संलिप्त है, उन्हें वाइस सैंपल देने के लिए भेजे। इसमें डरने और छुपने की क्या बात है, आगे उन्होंने कहा कि वाइस सैंपल देने की बजाय मुझे मेरी आवाज़ सुनाए, मैं उसका मिलान करूँगा और अन्य लोगों की आवाज़ की भी पहचान करूँगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *