पढ़ने लायक

जब सरकार पर लगा शराब बिक्री में घोटाले का आरोप

विधानसभा शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को शराब बिक्री को लेकर सवाल उठाये गए।सवाल में शराब बिक्री और उससे जमा राशि में हुए हेराफेरी की ओर संकेत किया गया है।

विधानसभा में पिछले 22 महीनों के शराब बिक्री के आंकड़ो को रखा गया। इस आंकड़ो में यह बताया गया कि अब तक 11128 करोड़ की शराब बिक्री की जा चुकी है।

इन्हीं आंकड़ो को लेकर कांग्रेस विधायक धर्मजीत सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि “आंकड़ो में 11128 करोड़ की शराब बिक्री हुई है लेकिन कोषालय में 8271 करोड़ ही जमा हुए है। अंतर राशि 2850 करोड़ का हिसाब नहीं है।”

उन्होंने कहा “प्रदेश में लूट, डकैती और गबन लगातार जारी है।शराब बिक्री में हेराफेरी मामले में संसदीय जांच की जाए।

विधायक के सवालों का जवाब देते हुए मंत्री कवासी लखमा ने कहा “शराब बिक्री को लेकर किसी भी तरह की जांच की जरूरत नहीं है। जिस अंतर राशि 2856 करोड़ रुपए की बात की जा रही है, उस राशि का उपयोग शराब खरीदी, दुकानों की व्यवस्था में किया गया हैं। बता दें कि विधानसभा अध्यक्ष ने शराब बिक्री की जांच की मांग को विचारधीन रखा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.