नगरीय निकाय चुनाव 2019 का बिगुल बज चुका है। निर्वाचन आयोग ने आज तारीखों का ऐलान कर दिया है। 21 दिसंबर को वोटिंग की प्रक्रिया होगी और नतीजे 24 दिसंबर को घोषित किये जाएंगे। प्रदेश में ईवीएम आने के बाद यह पहला मौका होगा जब बेलेट पेपर से चुनाव होगा। सबसे खास बात एक ही पाली में पुरे प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव संपन्न होगी। इसी घोषणा के बाद से राज्य में आदर्श आचार सहिंता भी लागु कर दी गई ।

चुनाव के लिए पुरे राज्य में 30 नवंबर को अधिसूचना जारी होगी। इसके बाद नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी, जो 6 दिसंबर तक चलेगी। इसके बाद 7 दिसंबर को नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी होगी फिर 9 दिसंबर को नाम वापसी के बाद उसी दिन प्रत्याशियों की अंतिम सूची जारी कर दी जायेगी। प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार के लिए 9 दिन का समय दिया गया है, इसी 9 दिनों में सभी प्रत्याशी जनता तक पहुंचेंगे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि पहली बार मतपत्र में नोटा का विकल्प होगा। पार्षद चुनाव के बाद महापौर, नगरपालिका अध्यक्ष और नगर पंचायत अध्यक्ष चुनाव की तारीख तय होगी। राज्य निर्वाचन आयोग की देखरेख में महापौर और अध्य्क्ष के चुनाव होंगे।इस बार पार्षदों का नामांकन फॉर्म आनलाइन भरे जाएंगे।पहली बार आनलाइन वोटर लिस्ट तैयार की गई है। चुनाव आयोग की आईटी टीम ने वेबसाइट बनाई है।

नक्सल प्रभावित जिले दंतेवाड़ा, कोंडागांव, कांकेर, नारायणपुर, बीजापुर और सुकमा में मतदान सुबह 7 से 3 बजे तक होगा। मैदानी इलाके में चुनाव सुबह 8 से 5 बजे तक होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *