दाऊ कल्याण मल्टीस्पेशलिस्ट अस्पातल के पूर्व अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता की वजह से 486 पदों की भर्ती निरस्त कर दी गई है। इस भर्ती को निरस्त करने से 22 हज़ार युवाओं को झटका लगा है। और उनके ओर से डिमांड ड्राफ्ट के रूप में जमा किये 66 लाख रूपये भी पानी में चले गए है ।

अस्पताल प्रबंधन का कहना है ” यह भर्ती की प्रक्रिया का मामला डॉ पुनीत गुप्ता के समय की है, जो अभी पुलिस कार्यवाही के दायरे में है, पुलिस से आवेदन के साथ साथ राशि को भी सीज कर लिया है। इसलिए आवदेन राशि लौटना भी संभव नहीं है।

डीकेएस अस्पताल ने 29 नवम्बर 2017 को 486 पदों पर नियुक्ति हेतु वॉक इन इंटरव्यू के लिए आवेदन मंगाए थे, जिसमें प्रदेश के 22000 युवाओं ने आवेदन किया था, आवेदन के लिए युवाओं ने 300-300 रुपए के डिमांड ड्राफ्ट भी जमा किये थे। लेकिन अब इस भर्ती को निरस्त कर दिया गया है।

डीकेएस अधीक्षक डॉ एस एल आदिले का कहना है, “नई भर्तियों के लिए शासन से संविदा भर्तियों की अनुमति मिली है। नए भर्ती से पहले पुरानी को विलोपित करना जरूरी होता है, इसलिए भर्ती निरस्त की गई है।”

पूरी प्रक्रिया में युवाओं को झटका लगा है, जो कि 2 साल से इस भर्ती का इंतजार कर रहे थे। ना युवाओं को भर्ती मिली ना ही आवेदन के साथ जमा की गई राशि लौटाई गयी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *