पढ़ने लायक

ठण्ड में हुआ स्वाइन फ्लू का वायरस सक्रीय, अलर्ट मूड पर स्वास्थ्य विभाग

स्वास्थ्य विभाग ने स्वाइन फ्लू को लेकर अलर्ट जारी किया है और नागरिकों को इसके वायरस से बचाव करने और लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टरों की सलाह लेने को कहा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मीरा बघेल का कहना है “स्वाइन फ्लू के वायरस सक्रिय होने लगे है।  इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग तैयारियों में लग गया है। साथ ही लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है। हालांकि अभी तक कोई भी पॉजिटिव मरीज नहीं पाए गए है।”

स्वाइन फ्लू वायरस :

स्वाइन फ्लू के वायरस ठंड के दिनों में ज्यादा सक्रिय होने लगते है। प्रदेश में वर्तमान में तापमान गिरकर 17 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है।  तापमान के 11 से 14 डिग्री आने पर स्वाइन फ्लू वायरस “एच वन , एन वन” सक्रिय होता है। इसलिए ठंड में इस बीमारी की संभावना अधिक होती है।

स्वाइन फ्लू के लक्षण :

अगर बुखार, गले में खराश, खांसी, जोड़ो में दर्द, उल्टी, चक्कर आना, ठंड लगना, मांशपेशियों में दर्द, दवा के बाद भी बुखार का बढ़ना, सांस लेने में तकलीफ होना, लगातार छीक आना जैसे कोई भी लक्षण आपको नजर आते है, तो तुरंत डॉक्टर के पास जरूर जांच कराए ।

स्वाइन फ्लू के इलाज के लिये स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है।

विभाग ने स्वाइन फ्लू के संभावित मरीजों को ट्रैक करने के लिए प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को निर्देश दिए है। साथ ही इन केंद्रों में लक्षणों की जांच करने वाले किट वायरल ट्रांसपोर्ट मीडियम की भी आपूर्ति करना शुरू कर दिया है।

50 हजार किट विभाग ने मंगाए है

मितानिनों की मदद से ग्रामीणों को भी इस विषय मे जागरूक करने का कार्य किया जाएगा। ताकि ग्रामीण संभावित मरीजों का तुरंत इलाज किया जा सके । साथ ही मरीजों को अम्बेडकर अस्पताल या किसी भी सरकारी अस्पताल में रेफर करने के भी आदेश दिए है। अम्बेडकर अस्पताल और जिला अस्पताल के फ्लू के आइसोलेटेड वार्ड को अपडेट कर दिया गया है। जिससे संभावित मरीजो को वहां रखा जा सके।

इस साल 26 लोगों की मौत

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जनवरी से अब तक पूरे प्रदेश में 140 मरीजो की रिपोर्ट पॉजिटिव रही है। जिसमें से 26 लोगो की मौत भी इस बिमारी से हुई है। राजधानी रायपुर में ही 8 लोगो की मौत हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.