राज्य के 27 जिलों में नगर निगम कमिश्नरों और नगर पालिका सीईओ की नींद हराम है। वे सुबह छह बजे उठकर सड़क पर दिखाई देते है। साफ-सफाई का मुआयना करते है..पब्लिक से फीडबेक लेते हैं और चीफ सेक्रेटरी को तस्वीर व्हाट्सएप करते हैं।

दरअसल, नगरीय निकाय एवं प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने चीफ सेक्रेटरी की उपस्थिति में निगम कमिश्नरों का बैठक लिया था।  जिसमें निर्माण कार्य सहित नगर-शहर की साफ़ सफाई पर जोर देते हुए उन्होंने कहा था कि शहर की सफाई में किसी भी प्रकार का ढिलाई बर्दास्त नहीं होगा। 

इस बैठक के बाद मुख्य सचिव ने सभी निगम कमिश्नरों को सफाई में खुद जुड़ने के लिए सुबह 6 बजे उठकर सफाई का जायजा लेने कह दिया।  सभी निगम कमिश्नर चीफ सेक्रेटरी के आदेश का पालन करते नज़र आ रहे हैं। इस दौरान निगम कमिश्नर सफाई कर्मियों से भेंट भी करते हैं। सबसे बड़ी ख़ास बात यह है कि मुख्य सचिव सफाई के मामले में सख्त नज़र आ रहे हैं। उन्होंने निगम कमिश्नरों से कहा है कि सफाई के दौरान लोगों से बातचीत करने और जायजा लेने का तस्वीर को व्हाट्सएप ग्रुप में भेजना होगा।

इस तरह की पहल प्रदेश में पहली बार की गई है, इससे अब साफ-सफाई दुरुस्त होते दिखाई पड़ रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *