पढ़ने लायक

बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कर सरकार में आयी, अब क्रूर मजाक कर रही सरकार

राज्य सरकार की ओर से जारी किये गए साढ़े पांच लाख रोजगार के आंकड़े पर भाजपा लगातार सवाल उठा रही है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बाद अब प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और भाजपा अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने मोर्चा संभाल लिया है। उन्होंने कहा कि “ हजारों युवा पुलिस भर्ती का इंतेजार करते रह गए लेकिन पुलिस भर्ती ही रद्द कर दी गई। राज्य के विभिन्न विभागों में काम कर रहे 40 हजार दैनिक वेतनभोगियो को निकाल दिया गया,उसके बाद भी 50 हजार लोगो को निकालने की तैयारी राज्य सरकार कर रही है। पिछले 11 महीनों में यह सबसे ज्यादा क्रूर मजाक किया गया है। बेरोजगारी भत्ता देने के वादे से आई कांग्रेस सरकार अपने वादों से मुकर युवाओं को ठगने का काम कर रही है।

रमन सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए कहा कि “ यदि भूपेश बघेल ज्यादा कुछ नहीं कर पा रहे , तो जनता को इतनी सहूलियत तो दे कि दैनिक वेतनभोगियों को नहीं निकाला जाए।

दूसरी ओर इस विषय पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि “ रोजगार बढा है यह नजर नहीं आ रहा है। यदि सरकार दावा कर रही है कि पांच लाख लोगो को रोजगार दिया गया है तो विभागवार जानकारी सार्वजनिक की जानी चाहिए।  फिलहाल रोजगार के दावों को लेकर सियासी संग्राम जारी है। जहां एक ओर कांग्रेस सरकार 5 लाख रोजगार की खुशियां मना रही है, वहां दूसरी ओर विपक्ष इन आंकड़ो की जड तक जाकर पोल खोलने की कोशिशें करता नजर आ रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.