बेमेतरा। प्रदेश के पशुपालन मंत्री रविन्द्र चौबे के विधानसभा में खेत का चारा खाकर दो सौ से ज्यादा मवेशियों की सेहत बिगड़ गई है। वहीं एक गाय की मौत की खबर है। बीमार मवेशियों में 80 की हालत गंभीर बताई जा रही है।

घटना साजा तहसील मुख्यालय से 8 किमी. दूर स्थित ग्राम बीजागोंड की हैं। मिली जानकारी के अनुसार 80 से ज्यादा मवेशियों की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है। एक के बाद एक पशुओं के बीमार पडऩे से पूरे गांव में हड़कंप मच गया। मवेशियों के बीमार होने की सूचना जब पशुधन विभाग के डॉक्टरों को दी गई तो उन्होंने इसे हल्के में ले लिया। कई घंटे बीत जाने के बाद ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष संतोष वर्मा और सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष साजा कृष्णा राठी को मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा।

जिसके बाद आधी रात को डॉक्टरों की टीम गांव पहुंची। मवेशियों का उपचार करना शुरू किया। फिलहाल दो सौ से ज्यादा मवेशियों के लिए पशुधन विभाग ने राहत और बचाव कैंप लगाया है। साजा कृषि मंत्री रवींद्र चौबे का निर्वाचन क्षेत्र है। ऐसे में पशुधन की ऐसी हालत से गंभीर सवाल उठ गए हैं।
ग्रामीणों ने बताया कि हर रोज की तरह पशु चरवाहे के साथ खेतों में चरने गए थे। चरवाहे ने बताया कि कुछ मवेशी कोदो के खेत में उतरकर चर रहे थे। जब मवेशी गांव लौटे तो कंपकंपी के साथ जमीन पर गिरने लगे। पशुधन विभाग के डॉक्टर अभी तक मवेशियों के बीमारी की वजह नहीं बता पाए हैं। घटना की सूचना जब रात में तहसीलदार प्रफुल रजक को दी गई तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। न ही मवेशियों के बीमारी की सुध बुधवार सुबह ली। ग्रामीणों ने बताया कि बीमार पशुओं में गाय, बछड़े, भैस शामिल हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *