पढ़ने लायक

छत्तीसगढ़ में भाजपा कांग्रेस दोनों का मौसम गुलाबी है, तारीख बदल बदल कर पलटा रहे फाईल

तारीख : 1 मई 2018 उस समय के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल अखबार की एक कतरन ट्वीट करते हैं जिसमें फसल कटाई के चार माह गुजरने के बाद भी बीमा राशि के भुगतान नहीं होने की खबर थी। इसे ट्वीट करते हुए भूपेश बघेल उस समय की भाजपा सरकार को लिखते हैं

तुम्हारी फाईलों में गांव का मौसम गुलाबी है

मगर यह आंकड़े झूठे हैं यह दावा किताबी है

इसे ​ट्वीट करने के बाद भूपेश बघेल ने लिखा था किसानों की आमदनी दुगनी करने की बात करने वाली सरकार किसानों को समय पर राशी नहीं दे पा रही है।

समय बदला और सरकार भी बदल गई।

अब नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक यही शायरी ट्वीट कर रहे हैं

साथ में कौशिक सरकार के उस दावे की आलोचना कर रहे हैं। जिसमें छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने 11 माह में 5 लाख रोजगार मिलने का दावा किया है।

खैर 5 लाख नौकरियों को लेकर सरकार के अपने तर्क हैं।

सरकार की ओर से यह विज्ञप्ति के रूप में जारी की गई है। हालांकि शासकीय भर्तियों में जिन पदों का जिक्र किया गया है उनमें से ज्यादातर प्रक्रियाधीन है या पोस्ट निकालकर ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है।

सरकार का जवाब

 जनवरी से अक्टूबर तक 10 माह में प्रदेश में 5 लाख 41 हजार 259 लोगों को रोजगार प्रदान किया गया है। इनमें से ग्रामीण क्षेत्रों में 5 लाख 10 हजार 117 लोगों को शासकीय सेवा के क्षेत्र में 20 हजार 502 लोगों को और उद्योगों में 10 हजार 640 लोगों को रोजगार प्रदान किया गया है। छत्तीसगढ़ राज्य आजीविका मिशन के तहत लगभग 2 लाख 29 हजार 374 महिलाओं को रोजगार मिला है। आदिवासियों की आय में वृद्धि के उद्देश्य से लघु वनोपजों की खरीदी 3500 महिला समूहों के माध्यम से 821 हाट बाजारों में की जा रही है। इसके माध्यम से लगभग 42 हजार महिलाओं को रोजगार मिला है।णवेश तैयार करने के काम में प्रदेश के लगभग 900 महिला समूह कार्यरत हैं। स्कूल के विद्यार्थियों के गणवेश तैयार करने में लगभग नौ हजार महिलाओं को रोजगार मिला है। वनोत्पादों के माध्यम से लगभग 35 हजार वनवासियों को गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने के काम में लगभग पांच हजार ग्रामीणों को, माहुल पत्ता, कपड़े और जूट से पत्तल और प्लेट तैयार करने के काम में लगभग पांच हजार बांस से ट्री-गार्ड और टोकरी तैयार करने में लगभग पांच हजार लोगों को रोजगार मिला है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत खेती-किसानी संबंधी गतिविधियों आर्गेनिक खाद (वर्मी कम्पोस्ट) आर्गेनिक औषधियां के क्षेत्र में लगभग 61 हजार 991 लोगों को, गैर कृषि क्षेत्र में 22 हजार 762 लोगों को रोजगार मिला है। इसी प्रकार नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी योजना के तहत बनाएं गए क्रियाशील गौठानों में महिला समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट और चारा उत्पादन का कार्य किया जा रहा है। प्रत्येक गौठान में 14 से 15 महिला कार्यरत हैं। गौठानों में लगभग 27 हजार 990 महिलाओं को इसी प्रकार महिला और बाल विकास विभाग के सुपोषण अभियान के कार्यो में लगभग 16 हजार महिलाओं को रोजगार के अवसर मिल रहें हैं। इन महिलाओं को 2750 रूपए प्रतिमाह आमदनी हो रही है। इस प्रकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में पिछले 10 माह में पांच लाख 10 हजार 117 लोगों को रोजगार मिला। शासकीय क्षेत्र में लगभग 20 हजार 502 लोगों को नौकरी मिली है। पिछले 10 माह में स्कूलों में 5441 शिक्षकों, 4000 सहायक शिक्षकों, 2767 व्याख्याताओं, विज्ञान प्रयोगशाला में 1200 सहायक शिक्षकों, 410 अंग्रेजी व्याख्याता, 306 अंग्रजी माध्यम के सहायक शिक्षकों के साथ अन्य पदों पर 1420 लोगों की भर्ती की गयी है। पुलिस विभाग में 3682 कॉन्सटेबल के पदों पर भर्ती की जा रही है।  छत्तीसगढ़ लोक सेवा के माध्यम से 503 पदों पर भर्ती की गई तथा 1972 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग में 250 पटवारियों, स्वास्थ्य विभाग 228 लेब टेक्निशियन, उच्च न्यायालय में हेल्पर ग्रेड-3 और कम्प्यूटर ऑपरेटर के 177 पदों तथा लोक निर्माण विभाग में 118 सब इंजीनियर (सिविल) की भर्ती की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.