Uncategorized

दंतेवाड़ा में जब धायं धायं हुई फायरिंग, सामने थे हजारों ग्रामीण

दंतेवाड़ा। बस्तर के दंतेवाड़ा में एक पुलिस कैम्प को लेकर जवानों और ग्रामीणों की बीच जमकर तनाव देखने को मिला। ग्रामीणों के विरोध को रोकने की लिए जवानों ने कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में हवाई फ़ायरिंग की। इस दौरान अगर कोई भी चूक होती तो कैम्प का विरोध कार रहे ग्रामीणों के साथ हादसा हो सकता था।

फ़िलहाल ग्रामीणों का विरोध शांत करा लिया गया है। यह पूरी घटना दंतेवाड़ा के पोटली की है। ग्रामीण वहां खुले नए पुलिस कैंप का विरोध कर रहे धा। इस दौरान हालात क़ाबू से बाहर होता देख जवानों ने हवाई फ़ायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद विरोध करने आए ग्रामीण वहां से भागने लगे। बताया जा रहा है कि हवाई फ़ायरिंग से पहले जवानों ने ग्रामीणों पार लाठियाँ भांजी थी। इसके बाद ग्रामीण और उग्र हुए थे।

जानकारी की अनुसार ग्रामीणों का आरोप हैं कि कैम्प खुल जाने के बाद जवान उन्हें परेशान करेंगे। इस लिए वे कैंप का विरोध कर रहे थे। अधिकारियों की समझाईश के बावजूद ग्रामीण नहीं माने तब जवानों ने लाठियाँ भांजी और हवाई फ़ायरिंग कर दी। जानकारी यह भी हैं कि ग्रामीणों ने यह विरोध नक्सलियों के कहने पर किया था।

https://www.facebook.com/topchandcg/videos/2484954135159953/?eid=ARAka6ijH_FH9Cabimj47h4nBG5MkTBkazC_yIXfLOxz-vuWT_gGFc9x82_L9GlCVc_nBRN-K4THHBGb

बता दें कि नक्सलवाद के चलते 2007 के बाद से ही अरहनपुर- पोटाली मार्ग बंद है। पोटली और आसपास के गांव में रहने वाले ग्रामीणों को अभी अपनी हर छोटी बड़ी जरूरतों के लिए कई किलोमीटर पैदल चल कर अरहनपुर पहुंचना पड़ता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.