राजधानी में रेलवे  स्टेशन से केंद्री तक बने एक्सप्रेस-वे की जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सौंप दी गई है। इसकी पिछले तीन महीने से जांच चल रही थी। बताते चले कि रेलवे स्टेशन से केंद्री तक बने इस एक्सप्रेस-वे लोकार्पण से पहले ही धसकने लगी थी। इसके बाद चीफ़ टेक्नीशियन कंट्रोलर और NIT के सदस्यों की जांच कमेटी बनाई गई  थी।  

 मीडिया सूत्रों के अनुसार जांच रिपोर्ट में रोड निर्माण में गड़बड़ी का कारण निर्माण कार्यों में जल्दबाज़ी को बताया गया है, लेकिन इस जांच रिपोर्ट में टीम को ओवरब्रिज के कंस्ट्रक्शन में कोई गड़बड़ी नज़र नहीं आया। बता दें कि आज सीएम भूपेश बघेल को अंतिम रिपोर्ट सौंपा दी है। आपको बता दें कि एक्सप्रेस वे उद्घाटन से पहले धसक गया था। बताया जा रहा है कि यह एक्सप्रेस वे 300 करोड़ के लगत से बना था। इसकी रिपोर्ट सामने आने के बाद एक बार फिर इस मुद्दे में राजनीति गरमा सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *