रायपुर। कभी-कभी करता कोई और है, भोग कोई और जाता है। ऐसा ही कुछ राजधानी में हुआ, मौका था ब्राह्मण पारा में गार्डन और सामुदायिक भवन के लोकार्पण का..और मुख्य अतिथि के तौर पर लोकार्पण करने पहुंचे थे क्षेत्र के विधायक और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल।

इस दौरान महिलाओं और बुजुर्गों का गुस्सा अपने ही विधायक बृजमोहन अग्रवाल पर फूट पड़ा। कहते है वार्ड के लोग अपने पार्षद आकाश दुबे से नाराज है। और इस नाराजगी का शिकार बृजमोहन अग्रवाल को होना पड़ा। इस पुरे वाक़ये के बीच महापौर प्रमोद दुबे लोगों को मानते नजर आए। लेकिन, ये पब्लिक थी, जो सब जानती थी। लिहाज़ा पूर्व मंत्री बढ़ते विरोध को देखते हुए लोकार्पण किए बगैर बैरंग ही लौट गए।

देखिए वीडियो:

क्यों हुआ विरोध…

दरअसल, ब्राम्हण पारा वार्ड के सामुदायिक भवन का मेंटेनेस वार्ड की समिति करती थी। लेकिन पार्षद बनने के बाद आकाश दुबे ने ये अधिकार अपने पास रखते हुए सामुदायिक भवन में ताला जड़ दिया। सूत्र बताते हैं कि 20 लाख रूपये की लागत से बने महिला प्रशिक्षण केंद्र का शनिवार को लोकार्पण था। लेकिन, वार्डवासी के विरोध के चलते नहीं हो पाया। वार्ड वासियों को मांग थी कि अगर सामुदायिक भवन में प्रशिक्षण केंद्र खुल जायेगा तो धार्मिक और सामजिक कार्य कहां करेंगे।

आरआई से विवाद के बाद चर्चे में आये थे पार्षद आकाश दुबे

पिछले साल आरआई से विवाद के बाद पार्षद आकाश दुबे चर्चे में आये थे। मारपीट के बाद आरआई को गंभीर  अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस घटना के बाद आरआई संघ ने पार्षद के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। इसके बाद इस मामले में पार्षद दुबे 8 दिन जेल होकर आये थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *