पढ़ने लायक

बीजेपी सांसद और पूर्व मंत्री में गुटबाजी के बाद दुर्ग-भिलाई में संगठन चुनाव स्थगित, ये है माजरा

प्रदेश भाजपा में दिनों दिन बढ़ रहे विवाद को रोकने और बिखराव की स्थिति को समेटने के लिए भाजपा आलाकमान ने भिलाई और दुर्ग में होने वाले संगठन चुनाव को स्थगित कर दिया है।

यह फैसला बीजेपी कर राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष ने लिया है, उन्होंने कहा है कि चुनाव को स्थगित किया गया है , इसे लेकर आगे की कार्यवाही का फैसला बाद में लिया  जायेगा । आदेश के मुताबिक जिला अध्यक्ष का चुनाव नहीं होगा और जो चुनाव हुआ है उसकी जांच समिति बना कर की जाएगी ।

क्या है मामला ?

बीजेपी में पड़ी यह दरार दुर्ग जिले में मंडल अध्यक्ष के चुनाव के समय से है। मंडल अध्यक्ष के चुनाव में हुए चयन को लेकर दिग्गज नेता आपस में ही गुटबाज़ी करते नजर आए । साथ ही दिग्गज अपने अपने खेमे की पैरवी करते दिखाई दिए ।

इन विवाद में बीजेपी अलग अलग खेमे में बंटी नजर आ रही, जिसमें एक खेमा सांसद सरोज पांडेय का है दूसरा खेमा सांसद विजय बघेल, विधायक विद्यारतन भसीन और तीसरा खेमा पूर्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय का खेमा।

विवाद तब शुरू हुआ, जब दुर्ग भिलाई के 23 मंडलो के चुनाव में सांसद बघेल और पूर्व मंत्री पांडेय के समर्थकों को जगह नहीं मिली, वहीं दोनों जगह 23 मंडलो में सरोज पांडेय के समर्थक ही काबिज हुए। इससे नाराज सांसद बघेल ने आलाकमान से पारदर्शिता से चुनाव ना होने व कमेटी बना कर इसकी जांच करने की मांग की थी।

सक्रिय सदस्यों की होगी पूछताछ

मंडल अध्यक्ष के चयन चुनाव को लेकर पार्टी के बूथ और सक्रिय सदस्यों से पूछताछ करेगी। इसके लिए जांच कमेटी के सदस्य दुर्ग भिलाई आएंगे, उसके बाद रिपोर्ट दिल्ली भेजी जायेगी । तब तक संगठन चुनाव स्थगित ही रहेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.