पढ़ने लायक

धान खरीदी की आग ट्वीटर पर भी भड़की, मुख्यमंत्री और पूर्व सीएम आमने-सामने..एक ने किया ऐलान-ए-जंग, तो दूसरे ने बताया इसे शर्मनाक

धान खरीदी का ज्वालामुखी अब ट्वीटर पर भी फट चूका है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीटर पर साहिर लुधियानवी की एक शायरी लिख ऐलान जंग किया है, तो वहीं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ट्वीट कर इसे अपनी नाकामी छुपाने धमकी की राजनीति बताते हुए शर्मनाक कहा है।

डॉ. रमन सिंह आज सुबह से ही ट्वीट पर आक्रामक नजर आ रहे हैं..या फिर सीधा कहे केंद्र सरकार का बचाव कर रहे हैं। वे अपने पहले ट्वीट पार लिखते हैं कि पिछले 1 वर्ष से प्रदेश के किसान केवल प्रतीक्षा ही कर रहे हैं और मुख्यमंत्री @bhupeshbaghel उन्हें गुमराह करने की पुरजोर कोशिश में हैं। प्रदेश के किसानों की ओर से मेरे आपसे 2 स्पष्ट सवाल हैं जिनके स्पष्ट उत्तर आज प्रदेश का हर किसान चाहता है।  किसानों की ओर से डॉ . रमन  पूछते हैं कि 1. क्या विधानसभा चुनाव 2018 में @INCChhattisgarh के घोषणा पत्र में धान खरीदी की न्यूनतम दर ₹2500 प्रति क्विंटल निर्धारित थी? 2. क्या आपने घोषणा पत्र में किसानों से यह वादा करने से पूर्व केंद्र सरकार से अनुमति ली थी या सिर्फ किसानों को बहलाने के लिए यह योजना बनाई थी?

इसके बाद पूर्व  सीएम मुख्यमंत्री के ट्वीट पर सीधा हमला बोलते हुए लिखते हैं “भोले-भाले किसान भाइयों से झूठे वादे करके सत्ता हासिल करने वाले आज अपनी नाकामी छिपाने धमकी की राजनीति पर उतर गए हैं जो शर्मनाक है। “पुरानी कश्ती को पार लेकर फ़क़त हमारा हुनर गया है, नए खिवैया कहीं न समझें नदी का पानी उतर गया है” #ठगो_किसान_भाई_मन_ला

क्या ट्वीट किया था मुख्यमंत्री भूपेश ने

हम अम्न चाहते हैं मगर ज़ुल्म के ख़िलाफ़ गर जंग लाज़मी है तो फिर जंग ही सही





Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.