खई खाजाना

काठमांडू का मोमोस और बिहार का लिट्टी चोखा खाने मरीन ड्राइव में लगती है भीड़

रायपुर। राजधानी के मरीन ड्राइव में काठमांडू का मोमोस और बिहार की लिट्टी चौखा खाने की भीड़ लगती है। और अगर आपको ये नहीं मालूम तो आज ही वहां लगने वाले भीड़ का हिस्सा बने और उसका स्वाद चखे!

मरीन ड्राइव जब से बना है, एक बढ़िया फ़ूड जोन रायपुर को मिला है। यहां आसपास लगने वाले स्टाल में चाय-कॉफ़ी से लेकर शाम के नास्ते तक का एक बेहतर आप्शन लोगों की शाम को लजीज कर देता है।

अगर आपको थकावट लग रही हो और आपका मन कॉफ़ी पीने का हो तो यहां पर आपको कई विराईटी मिलेगा। हॉट एंड कोल्ड कॉफ़ी से लेकर कई तरह के शेक और ड्रिंक्स यहां पर कम दामों में उपलब्ध है।  अगर आप यहां किसी फ्रेंड के साथ चील करना चाह रहे हैं तो यह रायपुर की अच्छी जगहों में से एक हैं।

यहां पर आपको हर रीजन के फूड्स मिल जाएँगे।  मगर यहां लगने वाली भीड़ मोमोस, चाईनीज और लिट्टी चोखा खाने के लिए लगती हैं। यहां पर काठमांडू से आये लोग मोमोस के स्टाल लगाते हैं इससे मोमोस का रियल टेस्ट मिलता है।

वैसे तो शहर भर में आज कल लिट्टी चोखा के स्टाल देखने को मिल जाएंगे। लेकिन मरीन ड्राइव के पास मिलने वाली लिट्टी चोखा रायपुर वासियों को अधिक पसंद आती है। यहां पर लिट्टी चोखा के साथ देने वाले स्पेशल बेगन के भरते उसे और स्वादिष्ट बना देता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.