दंतेवाडा। दो दर्जन से अधिक जवानों की हत्या में शामिल एक नक्सली ने दंतेवाडा पुलिस को सरेंडर किया है। जिसका नाम बामन मंडावी है। बामन लम्बे समय से सुकमा और दंतेवाडा में सक्रीय था और नक्सली प्लाटून नंबर 26 का सेक्शन कमांडर था

जानकारी के मुताबिक नक्सली बामन 25 जवानों की हत्या में शामिल था। इतना ही नहीं बामन पर एक वार्ड पांच के भी हत्या का आरोप है। दंतेवाडा पुलिस ने बामन पर 3 लाख रूपये का इनाम रखा हुआ था।

एसपी अभिषेक पल्लव ने बताया कि सरेंडर नक्सली बामन लंबे समय से सुकमा व दंतेवाड़ा जिले के अलग अलग इलाकों में सक्रिय था। साल 2015 में मैलावाड़ा ब्लास्ट में 7 जवान शहीद हुए थे, इसके अलावा दंतेवाड़ा के कटेकल्याण साप्ताहिक बाजार में हमले में एक जवान शहीद हुआ था, मरजुम हमले में भी एक जवान शहीद हुआ था, सुकमा के मरेंगा में वार्ड पंच की हत्या की गई थी। इन सभी वारदातों में सरेंडर नक्सली बामन मंडावी शामिल था। साल 2014 में सुकमा के टहकावाड़ा में नक्सली हमले में 16 जवान शहीद हुए थे। इस हमले में नक्सलियों ने जवानों के हथियारों की लूट भी की थी। इस वारदात में बामन मंडावी भी शामिल था। इसके अलावा भी कई हिंसात्मक घटनाओं में बामन मंडावी के शामिल होने का दावा पुलिस ने किया है। इसके सरेंडर करने से नक्सलियों को लेकर अहम जानकारी पुलिस को मिल सकती है। सरेंडर के बाद बामन को पुनर्वास नीति के तहत लाभ मिलेगा।


Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *