Uncategorizedपढ़ने लायक

बिलासपुर के दयालबंद में पढ़ा सरकारी स्कूल का छात्र बन गया प्रशासनिक महकमे का मुखिया

1987 बैच के आईएएस आरपीमंडल छत्तीसगढ़ के नए चीफ सेक्रेटरी बन गए हैं। मंडल मध्यप्रदेश के दमोह, छत्तीसगढ़ में बिलासपुर, रायपुर जैसे बड़े जिलों के कलेक्टर रह चुके हैं। प्रदेश में कई बड़े बड़े विभागों के सेक्रेटरी भी रह चुके हैं। अजीत जोगी की सरकार हो, रमन सरकार या अब भूपेश सरकार आरपी मंडल हमेशा से वेल परफार्मर अधिकारी के तौर पर सत्ता में जगह बनाए रहे। सरकार कैसी भी हो काम करने वाले अधिकारी की जरूरत सबको होती है यही वजह है कि, आरपी मंडल पर कभी राजनीतिक साया हावी नहीं हो पाया और सरकार कोई भी रही हो मंडल अपना महत्व बनाए रहे। मंडल राजस्व, ट्रायबल, पंचायत, पीडब्लूडी, फॉरेस्ट, लेबर समेत कई विभागों के सेक्रेरेट्री रह चुके हैं।
आर पी मंडल मूलत: बिहार के रहने वाले हैं उनके माता पिता बिलासपुर के रेल डिवीजन अस्पताल में डॉक्टर थे। उनकी पढ़ाई बिलासपुर के मल्टीपर्पस हाई स्कूल दयालबंद में हुई है। उन्होंने इंजीनयरिंग भी रायपुर में की और आईआईटी से मंडल ने एमटेक किया है।
आरपीमंडल प्रदेश के प्रशासनीक महकमे में हमेशा से अपनी अलग पहचान के तौर पर जाने जाते हैं। प्रदेश में पंचायतों का बड़ा काम हो या क्रिकेट स्टेडियम से लेकर बड़े बड़े आडिटोरियम या खेल के स्थान। आरपीमंडल के रहते प्रदेश में बड़ी संख्या में इंन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट का काम हुआ है। उम्मीद की जा रही है कि, आरपीमंडल चुंकि अपने जिंदगी का बड़ा हिस्सा उन्होंने छत्तीसगढ़ में जिया इसलिए राज्य की तासीर को समझते हैं, प्रदेश में विकास की योजनाओं में उनका अनुभव काम आएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.